इसके अलावा प्रोफेसर अपूर्वानंद और सामाजिक कार्यकर्ता हर्ष मंदर जैसी 12 हस्तियों ने एक साथ बयान जारी कर उमर खालिद की गिरफ्तारी की निंदा की। इन लोगों ने उमर को उन साहसी युवा आवाजों में से एक बताया जो ‘देश के संवैधानिक मूल्यों के लिए बोलती हैं।’

खालिद को शनिवार को तलब किया गया था और उन्हें रविवार को लोदी कॉलोनी में विशेष सेल कार्यालय में जांच में शामिल होने के लिए कहा गया था। रविवार को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने खालिद से करीब 11 घंटे लंबी पूछताछ की। इसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। उमर को आज कोर्ट में पेश किया गया।