Connect with us

राजनीति

व्यंग्य: मशरूम का खाया पिया और दुनिया का सबसे महंगा पानी भी गुजरात चुनाव प्रचार में निकल गया

Published

on

तीन साल दुनिया घूमी और अपने ही घर घूमने में पांव में छालें ला दिए बच्चों ने। बहुत मुगालते थे अपने मॉडल के बहुत परोस रहे थे यहां वहां ! एक बार भी मुंह से नही निकला – सी प्लेन में बैठकर भी जुमले वही काम आये हिन्दू मुस्लिम, पाकिस्तान, मन्दिर और आतंकवाद। अफसोस रह गया तो महबूबा को गुजरात मे देखने का- कसम से एक बार आ जाती मैदान में गोरे गोरे मुखड़े पर काला चश्मा लगाकर तो और भी उत्साह बढ़ जाता।

अमित शाह का भी वजन कम हो गया चलो शुगर बीपी कम होगा अब देश के लिए और आने वाले चुनावों के लिए नई रणनीति तैयार करेगा बन्दा। होमवर्क बढ़िया करेगा क्योकि शिवराज, रमण सिंह और वसुंधरा तीनों की ही मैदान में हालत मोदी जी से ज्यादा खराब है अब।

आज के बाद देशवासियों को नाटक , मजा, हंसी और घटियापन की गिरी हुई हरकतें देखने को नही मिलेंगी, मणि के नीचता भरे शब्द सुनने को नही मिलेंगे ना ही हार्दिक, अल्पेश या जिग्नेश के तर्क सुनने को मिलेंगे। राहुल के शालीन बोल भी गायब हो जाएंगे और अरुण कुमार जोती जैसे रीढ़हीन चुनाव आयुक्त के चाटुकारिता भरे कारनामे भी देखने को नही मिलेंगे।

परिणाम में तो भाजपा को आना ही है क्योंकि योगेंद्र यादव के कहने से छींका नही टूटेगा पर देशभर में भाजपा , कांग्रेस और इन तीन युवाओं ने जो माहौल बनाया, देश के प्रधान ने भाषा के जिस स्तर पर जाकर पद की गरिमा को धूमिल किया वह अक्षम्य भूल है और आने वाला समय इन्हें कभी माफ नही करेगा। डाक्टर मनमोहन सिंह ने जिस प्रतिष्ठा और सभ्य तरीके से अपनी बात कही वह स्पष्ट कर गया कि शिक्षित व्यक्ति का अपना स्तर, सभ्यता का तरीका, प्रतिष्ठा, विज़न और व्यापक समझ होती है जो फर्जी और दांव पेंच अपनाकर सत्ता नही हथिया सकता। एक सुसंस्कृत देश मे जहां विविधता है, विभिन्न भाषाएं और संस्कृतियों की पूछ परख है वहां एक व्यक्ति की सत्ता को लेकर सार्वजनिक लालसा को नकारने की भी ताकत होती है।

सबसे ज्यादा विश्वास खोया है तो मीडिया ने जो नीचता की हद से ज्यादा गिरा और इस माध्यम को अब आम लोगों ने जिस अंदाज में नकारा है और घृणा से देखा है वह सबसे शोचनीय है। नेताओं की जुगुप्सा और हवस समझ आती है पर इस पढ़े लिखे जमात की औकात , प्रतिबद्धता और थूक कर चाटने की घटिया हरकतों का गवाह समय रहेगा कि कैसे जब देश मे लोकतंत्र का निर्माण हो रहा था तो चौथे स्तम्भ ने अपनी औकात से बाहर जाकर अपने जमीर को ही नही बेचा वरन समाज के सामने गलत उदाहरण पेश किया।

शर्मनाक माहौल से बाहर आइये सरकार और अब देश के लिए काम करिये, अपने बंधुआ केबिनेट को और लोगों को जाकर कहिये कि अब काम करें बहुत हो गया नाटक। आप जीत रहे है। मुबारक, कम से कम प्रचार के ईजाद और देखे भाले गए शुष्क और घटिया तरीकों, प्रक्रियाओं में आपका कोई सानी नही है। मान गये उस्ताद !

(ये लेखक के निजी विचार हैं। संदीप नाईक स्वतंत्र टिप्पणीकार हैं।)

राजनीति

भाजपा कांग्रेस ने जनता को सिर्फ ठगा है:- आम आदमी पार्टी नेता रजिया बेग,

Published

on

सहसपुर विधानसभा के गणेशपुर में आम आदमी पार्टी की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक को संबोधित करते हुए पार्टी की प्रदेश उपाध्यक्ष रजिया बेग ने कहा कि प्रदेश में सत्ता रहने वाली भाजपा और कांग्रेस पार्टी ने बारी-बारी से यहां के निवासियों को ठगने का काम किया है। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी की सरकार बनने पर प्रदेश की जनता की सभी समस्याओं का समाधान किया जाएगा।

बैठक में गणेशपुर और आसपास के क्षेत्रवासियों ने काफी संख्या में पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। नए सदस्यों का स्वागत करते हुए आप की प्रदेश उपाध्यक्ष व बार काउंसिल की पूर्व चेयरमैन रजिया बेग ने पार्टी की नीतियों पर विस्तार से चर्चा किया। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड बनने के बाद से लेकर अभी तक प्रदेश में कभी भाजपा तो कभी कांग्रेस की सरकार रही, लेकिन इन दोनों पार्टियों ने सत्ता में रहते हुए प्रदेश की जनता को कोई सुविधा नहीं दिया।

सड़क, बिजली, पानी जैसी मूलभूत सुविधाएं तक सरकार जनता को उपलब्ध नहीं करा पाई हैं। उन्होंने दिल्ली सरकार का उदहारण देते हुए कहा कि दिल्ली सरकार के कामकाज की आज देश ही नहीं बल्कि विदेशों में भी तारीफ हो रही है। वहां की जनता को बिजली पानी मुफ्त में मिल रहा है। उन्होंने कहा कि अगर प्रदेश की सरकारें ईमानदारी से काम करती तो पहाड़ के निवासियों को पलायन नहीं करना पड़ता।

समस्याओं का निस्तारण कर रही सरकार

 

सहसपुर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम झाझरा में आयोजित बहुद्देश्यीय शिविर में विधायक सहदेव सिंह पुंडीर ने विभिन्न समस्याओं के निस्तारण का भरोसा दिलाया। उन्होंने कहा कि सरकार जनता की समस्याओं के निराकरण व सरकार की योजनाओं से पात्र व्यक्तियों को लाभान्वित करने की दिशा में निरंतर काम कर रही है। शिविर में क्षेत्रवासियों की विभिन्न समस्याओं को निस्तारित किया गया।

शिविर में विभिन्न विभागों से संबंधित कुल 23 मामलों में आवेदन प्राप्त हुए इसमें कुल नौ शिकायतों का मौके पर ही निस्तारण कर दिया गया। अन्य 14 शिकायतों के निस्तारण के लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों ने आवेदनकर्ताओं से एक माह का समय लिया है। शिविर में कृषि विभाग से आशाराम वर्मा, प्रमोद कुमार, श्रीदेव सिंह, विकासखंड अधिकारी शकुंतला शाह, आंचल, आनंद सिंह, उद्यान विभाग से जेडी वर्मा, जिला पूर्ति विभाग से विजय नैथानी, कमला रावत, पंकज शर्मा, दर्शन सिंह सजवाण उपस्थित रहे।

Continue Reading

राजनीति

मैं हमेशा ही नितीश कुमार के खिलाफ रहा हूँ: चिराग पासवान

Published

on

लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए (NDA) से राहें जुदा कर ली हैं. हालांकि, वह बीजेपी के साथ हैं और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) से नाराज हैं. एनडीटीवी को दिए इंटरव्यू में चिराग पासवान ने कहा कि नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू (JDU) को हर सीट पर हराना हमारा मकसद है. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार सहयोगियों की सुनते नहीं हैं. साथ ही पासवान ने यह भी कहा कि  हम JDU के साथ मजबूरी में थे. अब जनता दल यूनाइटेड (JDU) को हर सीट पर हराना ही हमारा मक़सद है.

चिराग पासवान ने रविवार को बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए (NDA) का हिस्सा बने रहते हुए ही अलग चुनाव लड़ने का ऐलान किया. उन्होंने जेडीयू के खिलाफ सभी सीटों पर उम्मीदवार उतारने, लेकिन बीजेपी (BJP) प्रत्याशियों के खिलाफ नहीं लड़ने की बात कही थी. हालांकि, अब चिराग पासवान ने कहा कि कुछ सीटों पर बीजेपी के खिलाफ भी उम्मीदवार उतारने की तैयारी है.

एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान ने कहा, “मैं हमेशा नीतीश कुमार के खिलाफ रहा. नीतीश का पत्ता हम नहीं जनता काटेगी.” गठबंधन को लेकर पूछ गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि गठबंधन में रहने के लिए बीजेपी का कोई दबाव नहीं था. हम पीएम मोदी के प्रति समर्पित हैं. चुनाव नतीजों के बाद जेडीयू के साथ जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि इस पर अभी बात नहीं की जानी चाहिए.

पासवान ने दावा किया है कि बिहार चुनाव में भारतीय जनता पार्टी और लोक जनशक्ति पार्टी की डबल इंजन वाली सरकार बनेगी. उन्होंने कहा कि कुछ सीटों पर BJP के ख़िलाफ़ उम्मीदवार भी उतारने की तैयारी है

NDTV के इंटरव्यू में चिराग पासवान की 10 बड़ी बातें-
1.    नीतीश सहयोगियों की नहीं सुनते
2.    हम JDU के साथ मजबूरी में थे
3.    JDU को हर सीट पर हराना मक़सद
4.    मैं हमेशा नीतीश के ख़िलाफ़ रहा
5.    गठबंधन में रहने के लिए BJP का कोई दबाव नहीं
6.    हम पीएम मोदी के प्रति समर्पित
7.    नतीजे के बाद JDU के साथ की अभी बात नहीं
8.    BJP-LJP की डबल इंजन की सरकार बनेगी
9.    कुछ सीटों पर BJP के ख़िलाफ़ उम्मीदवार भी
10.    नीतीश का पत्ता हम नहीं जनता काटेगी.

(साभार: khabar.ndtv.com)

Continue Reading

देश

रामविलास पासवान का हुआ दिल का आपरेशन, शनिवार को बिगड़ी तबियत

Published

on

लोक जनशक्ति पार्टी (Lok Janshakti Party) के दिग्गज नेता और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) के स्वास्थ्य को लेकर अपडेट सामने आया है। बेटे चिराग पासवान (Chirag paswan) ने बताया कि शनिवार को अचानक तबीयत बिगड़ने के बाद देर रात उनके दिल का ऑपरेशन किया गया है। संभव है कि अगले कुछ हफ्तों में एक और ऑपरेशन करना पड़े। चिराग पासवान ने ट्वीट करके अपने पिता के स्वास्थ्य की जानकारी दी है।

शनिवार शाम अचानक बिगड़ गई रामविलास पासवान की तबीयत

केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान की तबीयत काफी समय से ठीक नहीं चल रही है। उनका इलाज दिल्ली के एक अस्पताल में चल रहा है। इस बीच शनिवार को उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ने की जानकारी सामने आई। जिसके बाद चिराग पासवान तुरंत ही अपने पिता को देखने के लिए अस्पताल पहुंचे। इस बीच बिहार चुनाव को लेकर शनिवार को एलजेपी संसदीय बोर्ड की अहम बैठक भी थी, जिसे टाल दिया गया।

 

चिराग पासवान बोले- कुछ हफ्तों में एक और सर्जरी संभव

इसके बाद एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान ने रविवार सुबह करीब 5 बजे एक ट्वीट किया, इसमें उन्होंने केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान की तबीयत के बारे में बताया। उन्होंने लिखा, ‘पिछले कई दिनों से पापा का अस्पताल में इलाज चल रहा है। कल शाम अचानक उत्पन हुई परिस्थितियों की वजह से देर रात उनके दिल का ऑपरेशन करना पड़ा। जरूरत पड़ने पर सम्भवतः कुछ हफ्तों बाद एक और ऑपरेशन करना पड़े। संकट की इस घड़ी में मेरे और मेरे परिवार के साथ खड़े होने के लिए आप सभी का धन्यवाद।’

दिल्ली के अस्पताल में चल रहा पासवान का इलाज

रामविलास पासवान की बीमारी को लेकर बेटे चिराग ने पहले भी अपनी बात रखी थी। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं को एक बेहद भावपूर्ण चिट्ठी भी लिखी थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि आज मेरे पिता को जब मेरी जरूरत है तो मुझे उनके साथ रहना चाहिए नहीं तो मैं अपने आपको माफ नहीं कर पाऊंगा। दूसरी ओर बिहार चुनाव को लेकर भी चिराग पासवान को कई जरूरी फैसले लेने हैं। खास तौर से एनडीए में रहने को लेकर एलजेपी का क्या रुख है इस पर सभी की निगाहें टिकी हुई हैं। हालांकि चिराग पासवान ने शनिवार को एक ट्वीट के जरिए अपनी आगे की रणनीति की ओर इशारा जरूर कर दिया।

बिहार चुनाव में 143 सीट पर उम्मीदवारी की तैयारी में LJP

एलजेपी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष चिराग पासवान ने शनिवार को अपने ट्वीट से ये संकेत दे दिए एलजेपी बिहार में 143 सीटों पर उम्मीदवार उतार सकती है। चिराग पासवान ने ट्विटर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अपनी तस्वीर शेयर की है। जिसके साथ उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी के सभी उम्मीदवार प्रधानमंत्री के हाथ मजबूत करेंगे। साथ ही ये भी साफ कर दिया कि उन्हें बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली पार्टी जेडीयू से शिकायत है। उन्होंने मोदी के संग अपनी एक तस्वीर के साथ ट्विटर पर एक संदेश पोस्ट किया, ‘मुझे आशा ही नहीं बल्कि पूरा विश्वास है कि बिहार को फर्स्ट बनाने के लिए और बिहार की खोई अस्मिता को लौटाने के लिए आप सभी मुझे अपना आशीर्वाद देंगे, ताकि मेरे सभी प्रत्याशी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों को मजबूत कर सकें।’

Continue Reading

Trending